कंप्यूटर मॉनिटर और उनके प्रकार हिंदी में | Types of monitors-crt ,led and touch screen - Trending Tech

Trending Tech

hello, friends, I am Jitendra kasotia welcomes you in our blog.Trending Tech Ek multimedia blog hai.we provide you top jio offers, latest tech news, facebook, youtube tips, and tricks,youtube updates, Instagram tips, mobile news, education, blogging tips, new app tips, Whatsapp tips,online money earning tips, science news, Gmail, pubg mobile lite, whats trend on google trend,pubg tips, miui 10 for redmi 6, Samsung mobile tips, windows 10 tricks ki help mil jayegi.

test banner

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Wednesday, September 25, 2019

कंप्यूटर मॉनिटर और उनके प्रकार हिंदी में | Types of monitors-crt ,led and touch screen


Types of monitors-crt ,led and touch screen

computer monitor ek output devices hai. jo bahut parkar ke hote hai led,crt,lcdand touch screen.touch screen present me popuar monitors hai.
आपने हमारे पिछले आर्टिकल में पढ़ाई की कंप्यूटर के इनपुट डिवाइसेज कौन-कौन से उनके क्या-क्या विशेषताएं और उनके क्या-क्या फायदे हैं|  अब इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा कि कंप्यूटर में आपको आउटपुट डिवाइस के रूप में जो मॉनिटर्स होते है, वह कितने प्रकार के होते हैं और मॉनिटर्स के क्या
   डेफिनेशन है |
types of monitors in hindi, Monitor क्या है
monitors kya hai hindi me

मॉनिटर एक कंप्यूटर में आउटपुट डिवाइस है जो कि आपके द्वारा दिए गए डेटा को प्रोसेस होने के बाद में आउटपुट के रूप में आप को प्रदर्शित करता है ,यह डाटा को आप को सॉफ्ट कॉपी के रूप में दिखाता है, जिसे आप आसानी से समझ सकते हैं ,यूज़र मॉनिटर के द्वारा ही आउटपुट को स्क्रीन पर देख पाता है |

  कंप्यूटर के कई प्रकार होते हैं जो इस प्रकार है
  1. CRT monitor
  2. एलसीडी मॉनिटर
  3. एलईडी मॉनिटर
  4. Touch screen monitors

Types of monitors-crt ,led and touch screen

सीआरटी मॉनिटर या कैथोड रे ट्यूब


CRT मॉनिटर एक बहुत पुराना और जो प्राचीन काल से चला रहा आउटपुट डिवाइस है |यह मॉनिटर टीवी का जैसा होता है, सीआरटी मॉनिटर एक कैथोड रे ट्यूब होती है, जो अलग-अलग पावर की इलेक्ट्रॉन बीम का उपयोग करके स्क्रीन के ऊपर पिक्चर बनाती है| मॉनिटर स्क्रीन का आकार विकन रूप में इंच में मापा जाता है |मॉनिटर का रेजोल्यूशन pixals  में मापा जाता है एक मॉनिटर कितने Pixals  स्क्रीन पर होरिजेंटली वर्टिकली प्रदर्शित कर सकता है उसका रेजोल्यूशन कहलाता है | एग्जांपल के लिए 800 * 600,1024*768 आदि
पिक्सेल बहुत ही छोटे डॉट से बने होते हैं , जिन्हें मिलाकर किसी भी इमेज को स्क्रीन पर डिस्प्ले किया जा सकता है, स्क्रीन पर डॉट्स के बीच की रिक्त जगह को डॉट बीच कहा जाता है,  स्क्रीन में जितने डॉट बीच होंगे उस स्क्रीन पर पिक्चर की क्वालिटी को उसी प्रकार से प्रदर्शित किया जा सकता है |
यह भी पढ़िए:-


एलसीडी मॉनिटर

LCD  मॉनिटर का जो स्ट्रक्चर बनाया गया था | वह बहुत ही माइक्रो पिक्चर से बनाया गया है यह एक लाइट के द्वारा shape लेते हैं. एलसीडी लिक्विड क्रिस्टल डिस्पले का उपयोग करता है | एलसीडी कई पतली layers से मिलकर बनती है जब प्रकाश इन पदों पर गुजरता आती है प्रकाश का ध्रुवीकरण करती है एक परत का ध्रुवीकरण जिसमें कि लंबे अनु होते हैं जिसको क्रिस्टल डिस्प्ले कहा जाता है कॉ पिक्सल लेवल पर नियंत्रित किया जा सकता है ,जिससे पिक्चर को हल्का या गहरा बनाया जा सकता है | एलईडी प्लाज्मा डिस्प्ले भी एक फ्लैट पैनल तकनीकी है |

एलसीडी के फायदे:-

  • एलसीडी हल्की होती है इनको कहीं पर भी दीवार पर लटकाया जा सकता है |
  • एलसीडी क्लियर और कलरफुल फोटो या इमेज जनरेट करती है |
  • एलसीडी को अधिक ऊर्जा की आवश्यकता नहीं होती है |
  • एलसीडी की साइज कहीं पर भी  कम जगह में भी लटकाने के लिए कंफर्टेबल होती  है |

एलईडी लाइट एमिटिंग डायोड

Types of monitors-crt ,led and touch screen

एलईडी में फिल्म ट्रांजिस्टर उपयोग में लिया जाता है.  एवं हर एक Pixal  को नियंत्रित किया जाता है, इसलिए पिक्चर क्वालिटी व व्यूइंग एंगल बहुत बेहतर हुआ है|  एलईडी मॉनिटर लाइट एमिटिंग डायोड यूज करते हैं, जो मॉनिटर में परफॉर्मेंस बूस्टर का काम करते हैं  | एलईडी मॉनिटर मोड़ से एलईडी एलसीडी मॉनिटर है, जिनमें एलइडी बैकलाइट लगा हुआ है जो एलसीडी पैनल को रोशनी व शक्ति प्रदान करता है |

एलईडी के फायदे
  1. इसमें एमएच की क्वालिटी बहुत अच्छी होती है .और इसमें जो रेगुलेशंस मिलता है बहुत हाई क्वालिटी का होता है |
  2. इसका रेगुलेशन अच्छा होता है ,इस कारण इसको दूर से भी देखते हैं तो आपको इमेज और मीडिया बहुत अच्छा दिखाई देता है |

Touch screen monitors

इस तरह के मॉनिटर्स डिजिटल स्मार्टफोन और टेबलेट पर काम करते हैं, उनकी स्क्रीन पर टच स्क्रीन एक्टिवेट कर दी जाती है जो एग्जिट करने के काम आती है, हर एक फंक्शन को टच स्क्रीन को एक नॉर्मल स्क्रीन पर एक्टिवेट इंस्टॉल कर दिया जाता है, इसमें सेंसेटिव होते हैं जो ड्राइविंग का काम करता है यहां पर हमें ओनली टच करना होता है ,जिससे हम अपना कार्य आसानी से कर सकते हैं | टचस्क्रीन आज के समय में इसके काम के कारण बहुत ज्यादा पॉपुलर हो गया है इसका उपयोग मोबाइल फोंस में बैंकों में और एटीएम कार्ड में किया जाता है |

    एलइडी और एलसीडी में अंतर


Types of monitors-crt ,led and touch scree



s.n.
Types
      LED
       LCD
1
Full form
लाइटिंग एमिटिंग डायोड
लिक्विड क्रिस्टल डिस्प्ले
2
backlight
एलईडी में बैक लाइट लगी होती है|
इसमें बैक लाइट लगी नहीं होती है|
3
resolations
इसका स्क्रीन का रेजोल्यूशन बहुत हाई होता है |

इसका स्क्रीन का रेजोल्यूशन बहुत कम होता है |

4
Power uses
इसको अधिक पावर की जरूरत होती है |

इसको कम पावर की जरूरत होती है
|
5
Display size
इसकी डिस्पले साइज कम होती है |

इसकी डिस्प्ले की साइज बहुत अधिक होती है

6
Cost
इसकी कीमत बहुत ज्यादा होती है |

कीमत कम होती है |

7
Switching time
इसका स्विचिंग टाइम बहुत फास्ट होता है |

इसका स्विचिंग टाइम कम होता है |

8
Viewing angal
इसका व्यूइंग एंगल 150 डिग्री होता है |

100 डिग्री होता है |

 आपका हमारी पोस्ट पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद आपको और अधिक जानकारी चाहिए तो आप हमारे ब्लॉक को फॉलो कर लीजिए  |आपको हमारे blog में   इंटरनेट और कंप्यूटर से संबंधित ऐसे ही पोस्ट सिंपल और सरल भाषा में मिल जाएगी |

                                             Thanks for visiting
                                             Trandingtech.com

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Post Top Ad

Responsive Ads Here